यूएससीआईएस, आप्रवासी निवेशक कार्यक्रम की व्यवस्था करता है, जिसे “ईबी-5” के नाम से भी जाना जाता है, जिसका निर्माण कांग्रेस द्वारा 1990 में किया गया था जिसका उद्देश्य विदेशी निवेशकों द्वारा पूँजी का निवेश करके और रोजगार पैदा करके अमेरिकी अर्थव्यवस्था को मजबूत करना था।  1992 में पहली बार अधिनियमित और तब से नियमित रूप से पुनःप्राधिकृत एक प्रायोगिक आप्रवासन कार्यक्रम के तहत, आर्थिक वृद्धि को बढ़ावा देने के प्रस्ताव के आधार पर यूएससीआईएस द्वारा नामित रीजनल सेंटरों में निवेशकों के लिए कुछ ख़ास ईबी-5 वीज़ा को एक तरफ रख दिया जाता है। ईबी-5 कार्यक्रम का व्यवस्थापन संयुक्त राज्य नागरिकता और आप्रवासन सेवा (यूएससीआईएस), द्वारा किया जाता है जो अमेरिका में सभी गैर नागरिकों के वैध आप्रवासन की देखरेख करता है जो कि यूनाइटेड स्टेट्स कांग्रेस द्वारा अनिवार्य कर दिया गया है। ईबी-5 कार्यक्रम का भविष्य बहुत आशाजनक है। आजकल ज्यादा से ज्यादा लोग अपने अस्तित्व, उपयोगिता, और लाभों से अवगत हैं। जिम्मेदार और व्यवहार्य क्षेत्रीय केन्द्रों के माध्यम से कार्यक्रम में लगे निवेशकों की संख्या बढ़ती जा रही है क्योंकि वे इस कार्यक्रम को एक महत्वपूर्ण निवेश अवसर के साथ जुड़े अमेरिकी निवेश के एक फास्ट ट्रैक के रूप में देखते हैं। ईबी-5 कार्यक्रम, अमेरिकी अर्थव्यवस्था, अमेरिका प्रायोजकों, और विदेशी निवेशकों, और इस तरह के अन्य लोगों के लिए एक फायदेमंद मंच है।